लोन एजेंट कौन बन सकता है? | लोन एजेंट बनने का स्टेप क्या है?

दोस्तों हर आदमी का एक सपना होता मैं कुछ बनु और अपना नाम कमाऊ जैसे – आईएएस, आईपीएस ऑफिसर बनने का लेकिन उन्ही में से कुछ लोग DSA Loan Agent बनने की सोचते है, परन्तु उन्हें पता नही होता है की कैसे लोन एजेंट बना जाता है, लोन एजेंट कौन बन सकता है तो में आपको बता दू की लोन एजेंट बनने के लिए आपको जिस भी बैंक में लोन एजेंट बनना है उसके वेबसाइट पर जाना होगा उसके बाद कुछ बेसिक डिटेल फिल करके घर बैठे लोन एजेंट बन सकते है। आज इस बेरोजगारी के दौर में डीएसए (लोन एजेंट) बनना फायदे का सौदा है जिस से आप लोगो को लोन दिलाकर अच्छी खासी इनकम ले सकते है, जब भी किसी व्यक्ति को लोन लेना होता है, तो वह बैंक जाकर लोन के लिए आवेदन करता है। किन्तु बहुत से लोग ऐसे भी है, जो बैंक जाकर लोन लेने से कतराते है, और इधर उधर से पैसा उधर लेकर काम चला लेते है, तथा कुछ लोगो को किन-किन परिस्थितियों में लोन लिया जा सकता है, इसकी जानकारी नहीं होती है। ऐसे में आप लोन एजेंट से संपर्क कर हर तरह के लोन के बारे में जानकारी ले सकते है, इन्ही लोन एजेंट के जरिए लोन के लिए आवेदन भी कर सकते है। बैंक लोन देने के बदले अपने ग्राहकों से कुछ ब्याज लेता है, यही ब्याज बैंक का लाभ होता है। लोन एजेंट के लिए बैंक समय-समय पर अच्छी नियुक्ति लाते है यदि आप भी लोन एजेंट बनना चाहते हैं और लोन एजेंट बनकर कमाई करना चाहते हैं तो इस पोस्ट को पूरा ध्यान से पढ़ें इस पोस्ट में हमने लोन एजेंट कैसे बने से जुड़े पूरी जानकारी दी है जैसे लोन एजेंट कौन होता है कैसे बने, डीएसए लोन एजेंट कौन होता है आदि

इसे पढ़ें :- प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) 2023 क्या है? | PMMY के तहत लोन कैसे ले?

लोन एजेंट कौन होता है?

डायरेक्ट सेलिंग एजेंट या डीएसए वह व्यक्ति होता है जो किसी बैंक या एनबीएफसी के लिए रेफरल एजेंट के रूप में काम करता है। डीएसए का काम उस बैंक के संभावित ग्राहकों को ढूंढना है जिसका वे प्रतिनिधित्व करते हैं। ऐसा करने के लिए, डीएसए उन लोगों की तलाश करेंगे जो लोन के लिए बाजार में हैं। जो बाजार में लोन लेने के लिए फिर रहे है उन्हें लोन नहीं मिलता, ये डीएसए उनको लोन दिलाने में पूरी मदद करते है और लोन दिला देते हैं। लोन एजेंट बैंक का वह व्यक्ति होता है जो लोन की सेवाएं के बारे में लोगों को जानकारी देता है है उन्हें लोन दिलाता और समय-समय पर लोन वसूली करता है। जो अन्य ग्राहकों को नई-नई स्कीम की जानकारी देकर बैंक के साथ जोड़ता है, जिन ग्राहकों को लोन की जरूरत हो उन्हें सही तरीके से जांच करके लोन दिलाता है लोन एजेंट वही कहलाता है।

Loan Agent (DSA) कैसे बनें?

Loan Agent kaise bane in hindi ये समझने से पहले आइए जानते हैं कि Loan agent होते कौन है? दोस्तों Loan Agent जो होते हैं उनको DSA (Direct Selling Agent) भी बोला जाता है जिन्हें हम short form में DSA भी कहते हैं ।या Loan agent को Home loan counselor, Call Loan counselor , Loan counselor ये सारे अलग अलग नाम से Loan Agent को बुलाया जाता है। लोन एजेंट बैंक का एक ऐसा व्यक्ति होता है, जो बैंक की सेवाओं को बेचने का कार्य करता है। लोन एजेंट ग्राहक को उनकी जरूरत के अनुसार सुरक्षित तौर पर लोनदिलवाने में सहायता प्रदान करता है। यह एजेंट आपको लोन देने वाली बैंक से जोड़ता है, तथा सभी डॉक्यूमेंट को वेरीफाई और बेसिक जांच भी करता है, साथ ही दिए गए डॉक्यूमेंट के सही होने की भी जांच करता है। इसके अतिरिक्त लोन एजेंट बैंक से लोन प्राप्त करने से संबंधित सभी जानकारियों के बारे भी बताता है।
इन Loan Agent को Banks अपने साथ काम करने के लिए बुलाती है। ये Loan agents और Bank कर्मियों की तरह Permanent Staff नहीं होते हैं। और नाहीं इन्हें Bank की ओर से कोई Fixed monthly Salary मिलती है। अब बात आती है कि Loan agent क्यों बने जब बैंक salary ही नहीं देगी ,तो दोस्तों बात ऐसी है कि ये Loan Agent जितने Loan बेचते हैं। मतलब इन Loan एजेंट के द्वारा जितने लोग या company को Loan मिलेगा, Bank उसका कुछ हिस्सा इन Loan Agents को पैसे देगी इसी तरह से Loan दिलाकर Loan agent की अच्छी ख़ासी कमाई हो जाती है।

इसे पढ़ें :- Central Bank Of India Se Loan Kaise Le?

लोन एजेंट बनने के फायदे?

  • लोन एजेंट बनने पर आप स्वतंत्र रूप से काम कर सकते हैं।
  • स्वतंत्र रूप से जितना ज्यादा आप काम करेंगे उतना ही कमीशन बनेगा।
  • आपकी कम्युनिकेशन स्किल बेहतर होगी।
  • लोन एजेंट बनने के लिए किसी भी तरह के ऑफिस की आवश्यकता नहीं होगी।
  • इस काम को आप अपने मोबाइल से भी कर सकते हैं।
  • Loan Agent बनने का सबसे बरा फ़ायदा ये है कि इसमें कोई Timing नहीं है जब मन करे तब काम करो इसमें Office या Bank के खुलने या बंद होने से कोई मतलब नहीं है।
  • आप खुद का अपना एक नेटवर्क बना सकते हैं।
  • Bank के Insurance बेचकर loan agent कमाई कर सकते हैं।
  • इसमें unlimited income हैं। कोई limit नहीं है आप जितना मेहनत करोगे उतने आपके पैसे बनेंगे।
  • Home loan, car loan, personal Loan सभी तरह के लोन दिला सकते हैं।

Loan Agent को बैंक कितना Commission देता है?

एक लोन एजेंट जब किसी व्यक्ति को होम लोन दिलाता है, तो बैंक द्वारा उसे कुछ कमीशन दिया जाता है। एक लोन एजेंट को सरकारी बैंक में 0.25% से 0.40% तक कमीशन देता है और वही प्राइवेट बैंक में 0.20% से 0.55% तक कमीशन मिलता है और यह कमीशन बैंक के ऊपर निर्भर करता है।

इसे पढ़ें :- Cash, UPI, Credit Card, Debit Card : भुगतान के लिए सबसे अच्छा तरीका क्या है?

लोन एजेंट बनने के लिए योग्यता?

सबसे पहले हम आपको बता दें कि आजकल लोन एजेंट का डिमांड काफी ज्यादा बढ़ गया है, अगर आपको लोन एजेंट बनना है तो आपको किसी भी विषय में स्नातक की डिग्री होनी चाहिए भारत के किसी भी विश्वविद्यालय में कम से कम 50% अंकों के साथ उचित होना चाहिए आप इसके लिए बैंकिंग एंड फाइनेंस का कोर्स कर सकते हैं। लोन एजेंट बनने के लिए आप किसी भी विषय में स्नातक की डिग्री ले सकते हैं, अगर आप कॉमर्स के किसी विषय में स्नातक करते हैं तो आपको लोन एजेंट बनने में थोड़ी आसानी जरूर हो जाएगी क्योंकि कॉमर्स विषय से स्नातक करने का मतलब है कि आपको बैंकिंग के क्षेत्र में अन्य विषयों वाले कैंडिडेट से ज्यादा नॉलेज होता है इसीलिए आपको ज्यादा प्राथमिकता दी जाती है। आपका उम्र 21 वर्ष या इससे अधिक होना चाहिए और आपके पास पैन कार्ड, आधार कार्ड और बैंक अकाउंट होना चाहिए।

पब्लिक सेक्टर बैंक में लोन एजेंट कैसे बने?

यदि आप पब्लिक सेक्टर वाली बैंक में लोन एजेंट बनना चाहते है, तो उसके लिए आपको बैंक द्वारा जारी किए जाने वाली नोटिफिकेशन का इंतजार करना होता है। पब्लिक सेक्टर बैंक में लोन एजेंट की नियुक्ति के लिए बैंक द्वारा नोटिफिकेशन को जारी किया जाता है, जिसमे लोन एजेंट के रिक्त पद की सूचना दी जाती है। आप नोटिफिकेशन जारी होने के बाद उस पोस्ट के लिए अपनी नजदीकी बैंक में जाकर अप्लाई कर सकते है। डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन सफल होने के बाद आवेदक का सिबिल स्कोर देखा जाता है। इसके बाद चयन के लिए एक कमेटी गठित की जाती है, उस कमेटी की मुहर लग जाने के बाद आपको Loan Agent के लिए चुन लिया जाता है। इसके अलावा आपको बैंक की तरफ से लोन एजेंट का आईडी कार्ड भी दिया जाता है। आईडी कार्ड प्राप्त करने के पश्चात् आप बैंक के आधिकारिक लोन ऑफिसर हो जाते है और अपना काम शुरू कर सकते है।

प्राइवेट बैंक में लोन एजेंट कैसे बने?

प्राइवेट बैंक में लोन एजेंट बनने के लिए – आप जिस बैंक में लोन एजेंट बनना है उस बैंक की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना पड़ेगा और वहां आपको Became a Member, या Earn with Us या Association with Us Affiliated इनमे से कोई एक विकल्प दिखेगा उस पर क्लिक करके कुछ बेसिक दस्तावेज को अपलोड करके आप अप्लाई कर सकते हैं उसके बाद आपको अपने डॉक्यूमेंट के साथ बैंक बुलाया जाएगा और आपका बेसिक डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन होगा। और अगर इन ऑप्शन में से कोई ऑप्शन नहीं है तो आप डायरेक्ट बैंक के हेल्पलाइन नंबर पर बात कर सकते है। उसके बाद आप बैंक के लोन एजेंट के तौर पर काम कर सकते हैं।

इसे पढ़ें :- PMEGP योजना क्या है? | सब्सिडी वाला लोन लेने का तरीका क्या है?

फ्रेंड्स, लोन एजेंट कैसे बने, पब्लिक सेक्टर बैंक में लोन एजेंट कैसे बने, प्राइवेट बैंक में लोन एजेंट कैसे बने, लोन एजेंट बनने के फायदे, Loan Agent (DSA) कैसे बनें, लोन एजेंट कौन बन सकता है, लोन एजेंट बनने का स्टेप क्या है,आपको हमारी ये पोस्ट कैसी लगी, अगर अच्छी लगी हो तो अपने उन दोस्तों या मित्रो, रिस्तेदारो के साथ जरूर शेयर करे जो बैंक में एजेंट बनना चाहते है और बेरोजगारी से बचना चाहते है।

धन्यवाद!

Leave a Comment