प्रधानमंत्री मुद्रा लोन 2023 में कैसे मिलेगा?

Pradhan Mantri Mudra Yojana क्या है?

Mudra Loan scheme or E-Mudra Loan ( प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना) या पीएम मुद्रा लोन योजना की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 8 अप्रैल 2015 को नई दिल्ली में इस योजना की शुरुआत की थी। केंद्र सरकार के द्वारा इस prdhanmantri Mudra Loan yojana को इसलिए शुरुआत की गई थी ताकि जो लोग देश में स्वरोजगार करना चाहते हैं या जो छोटे व्यापार के जरिए अपना रोजगार बढ़ाना चाहते हैं इसमें उनको आसानी से लोन दिया जा सके। Pradhan Mantri Mudra Yojana को तीन भागों- शिशु ऋण, किशोर ऋण, तरुण ऋण में बांटा गया है. इससे लाभार्थी के बिजनेस के ग्रोथ और डेवलपमेंट के स्टेज के आधार पर तय किया जाता है कि उसे किस स्टेज में लोन मिलेगा। शिशु में आपको 50 हजार रुपये तक, किशोर में 50 हजार से 5 लाख तक और तरुण में आपको 5 लाख से 10 लाख तक लोन मिलता है, प्रधानमंत्री e-Mudra loan का उद्देश्य लोगों को आत्मनिर्भर बनाना है और इस Scheme का फायदा ले करके कोई भी छोटा कारोबार शुरू कर सके।

ई -मुद्रा लोन लेने का तरीका क्या है?

PM Mudra Loan Kaise Le क्या आप भी अपना छोटा सा व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं ? किसी तरह का बिजनेस शुरू करना चाहते हैं और आपको पैसे की जरूरत जरूरत है और कहीं से जुगाड़ नहीं लग पा रहा है और तो और आपकी आर्थिक स्थिति खराब है तो आप कैसे पीएमएमवाई लोन ले सकते हैं? मुद्रा योजना (पीएमएमवाई) के तहत लोन के लिए आपको सरकारी या बैंक की शाखा में आवेदन देना होगा। अगर आप खुद का कारोबार शुरू करना चाहते हैं तो आपको मकान के मालिकाना हक़ या किराये के दस्तावेज, काम से जुड़ी जानकारी, आधार, पैन नंबर सहित कई अन्य दस्तावेज देने होंगे।

Pradhan Mantri Mudra Yojana highlights :-

  • योजना का प्रकार PM e-Mudra Loan
  • लोन का प्रकार – बिज़नेस लोन
  • अधिकतम लोन राशी – 10 लाख रुपये
  • भुगतान अवधि – 5 साल
  • ब्याज दर – 10 % से शुरू

मुद्रा लोन रिव्यु हिंदी में

आपको बता दें कि सरकार आपकी सहायता के लिए ही एक योजना शुरू की है जिसका नाम है कि PM MUDRA LOAN SCHEME इसमें आपको 10 लाख तक का LOAN मिल जायेगा इस पोस्ट को पढने के बाद आपको पूरी जानकारी हो जाएगी। कई बार यह होता है कि हम लोग कोई काम सोचते हैं ,जैसे व्यापार चालू करना है या कोई भी दुकानदारी या फिर business जिसमें पैसों की जरूरत हो और पैसे ना होने की वजह से हम वो काम नहीं कर पाते हैं |
तो सरकार इन सभी परेशानियों को देखते हुए नई नई योजनाएं लाती रहती है उनके लिए जो इस तरह के कोई बिजनेस शुरू करना चाहते हैं या छोटे व्यापार शुरू करना चाहते हैं। अब बात आती है कि इन योजनाओं की जानकारी उन्हें नहीं रहती है या कोई बताता ही नहीं है तो आइए हम इस yojana के बारे में जानकारी देते हैं कि आप जल्द से जल्द इस PM MUDRA LOAN e-Mudra Loan Scheme ka लाभ कैसे उठा सकते हैं और 10 लाख रुपये तक का Loan कैसे लेंगे।

PM Mudra Loan को क्यों शुरू किया?

मुद्रा लोन को इसलिए शुरू किया गया था ताकि जो लोग अपना खुद का रोजगार शुरू करना चाहते हैं उसे आसानी से लोन देकर के बढ़ावा देना और दूसरा छोटे-छोटे जो उद्याम या व्यापारी होते हैं उनके रोजगार को बढ़ावा देना। जब Mudra Yojana Launch नहीं हुई थी उससे पहले छोटे छोटे व्यापारियों के लिए लोन लेना काफी मुश्किल होता था। बैंक में लोन के लिए औपचारिकताएं पूरी करनी पड़ती थी। लोन लेने के लिए कई सारी गारंटी देनी पढ़ती थी बैंक को । कई लोग उद्यम शुरू करना चाहते थे ,छोटे व्यापार शुरू करना चाहते थे, लेकिन कई सारे बैंकों ने लोन नहीं देते थे टालमटोल करते थे, इस मुद्रा लोन से उन्हें काफी सहूलियत मिल रही है।

मुद्रा लोन के प्रकार

बात करें यदि मुद्रा लोन की तो इसमें 3 तरह के लोन स्वीकार किया जाते हैं। पहला है- शिशु लोन ,दूसरा है – किशोर लोन और तीसरा है- तरुण लोन आइए इसके बारे में थोड़ा सा समझ लेते हैं :-

  1. शिशु लोन – इस लोन में यानी शिशु लोन के तहत उद्यमी व व्यापारी को 50000 रुपये तक रुपए कर्ज दिए जाते हैं इसमें प्रोसेसिंग चार्ज जीरो है।
  2. किशोर लोन – किशोर लोन कर्ज के तहत इसमें 50000 रुपए से लेकर के 500000 रुपए तक के लोन आसानी से मिल जाते हैं।
  3. तरुण लोन – इस लोन में यानी तरुण लोन में 500000 रुपये से लेकर के 1000000 रुपये तक के लोन इस में आसानी से मिल जाते हैं।

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन के लिए क्या-क्या डॉक्यूमेंट लगते हैं?

आवेदक के लिए केवाईसी दस्तावेज जिसमें पासपोर्ट, मतदाता पहचान पत्र, ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, आधार कार्ड, उपयोगिता बिल (पानी / बिजली के बिल), जन्म प्रमाण पत्र, दसवीं कक्षा का प्रमाण पत्र शामिल हैं।

मुद्रा लोन कौन ले सकता है?

कोई भी व्यक्ति जो भारत का नागरिक हो और वह अपना व्यवसाय शुरू करना चाहता हो। व्यवसाय छोटा हो या बड़ा हो या आप अपने व्यवसाय को आगे बढ़ाना चाहता हों। उसमें यदि पैसे की जरूरत है तो आप प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना स्कीम के तहत 10 लाख रूपये के लोन ले सकता हैं और एक बात इस लोन को चुकाने की अवधि सरकार द्वारा 5 साल के लिए बढ़ा दी गई है।

मुद्रा लोन बैंक सूची :-

पंजाब नेशनल बैंक, पंजाब एंड सिंध बैंक, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, कॉर्पोरेशन बैंक, देना बैंक, एचडीएफसी बैंक, बैंक ऑफ इंडिया, बैंक ऑफ महाराष्ट्र, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, आईडीबीआई बैंक, यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया, इंडियन बैंक, सिंडिकेट बैंक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया.

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन कैसे अप्लाई कैसे करें?

  • लोन एप्लीकेशन फॉर्म डाउनलोड करें।
  • लोन एप्लीकेशन फॉर्म में सही जानकारी भरें।
  • किसी भी सार्वजनिक या प्राइवेट बैंक में जाएं।
  • बैंक की सभी प्रक्रियाओं को पूरा करें।
  • जिसके बाद लोन पास हो जाएगा।

मुद्रा लोन के लिए सीधे ऑनलाइन अप्लाई करने के लिए;-

आपको Mudra Loan के Official Website पर चलें जाना है। यदि आप चाहें, तो डायरेक्ट इस लिंक https://www.mudra.org.in/ के माध्यम से Mudra Loan के Official Website पर Visit कर सकते हैं।। उद्योग मित्र पोर्टल ओपन होने के बाद अपने बिज़नेस का रजिस्ट्रेशन करें। आप उद्योग मित्र पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करने के बाद सीधे प्रधानमंत्री लोन योजना ऑनलाइन फॉर्म भर कर मुद्रा लोन ऑनलाइन अप्लाई कर सकते हैं।

Question & Answer :-

मुद्रा लोन कितने दिन में पास हो जाता है?

अगर आप ठीक से मुद्रा लोन का अप्लाई करेंगे तो आपको 1 सप्ताह के भीतर भी मिल सकता है। ज्यादा से ज्यादा 2 सप्ताह का समय लग सकता है।

मुद्रा लोन में कितनी सब्सिडी मिलती है?

हाल ही में प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने ‘प्रधानमंत्री मुद्रा योजना’ के तहत सभी शिशु ऋण (Shishu Loan) खातों पर 12 माह की अवधि के लिये 2% की ‘ब्याज सब्सिडी योजना’ को मंज़ूरी प्रदान की है।

क्या हैं प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (पीएमएमवाई) के लाभ?

मुद्रा योजना (पीएमएमवाई) के तहत बिना गारंटी के लोन मिलता है। इसके अलावा लोन के लिए कोई प्रोसेसिंग चार्ज भी नहीं लिया जाता है। मुद्रा योजना (Mudra Yojana) में लोन चुकाने की अवधि को 5 साल तक बढ़ाया जा सकता है।

मुद्रा लोन नहीं चुकाया तो क्या होगा?

अगर कोई भी व्यक्ति प्रधानमंत्री मुद्रा लोन के तहत बिजनेस शुरू करने या उसके विस्तार के लिए लोन लेता है और फिर उसे वापस सही समय पर नहीं चुकाता है तो ऐसी स्थिति में उसकी संपत्ति को बैंक कानूनी तौर पर जब्त कर सकता है।

Leave a Comment